Featured Shayaries – This Week


Na Ruki Waqt Ki Gardish Aur Na Zamana Badla.

Ped Sukha To Parindo Ne Thikana Badla.

 

न रुकी वक़्त की गर्दिश और न ज़माना बदला,

पेड़ सूखा तो परिंदों ने ठिकाना बदला।

– Kalamuddin, Pachperwa


Na Khoobsurat, Na Ameer, Na Shatir Banaya Tha.

Mere Rab Ne To Mujhe Tere Khatir Banaya Tha.

 

ना खूबसूरत, ना अमीर, ना शातिर बनाया था।

मेरे रब ने तो मुझे तेरे खातिर बनाया था।

-Mohd Shoeb, Balrampur


Mohalley Ke Ishq Ka Bhi Bada Ajeeb Afsana Hota Hai

Do Gharo Ki Doori Par Beech Me Sara Zamana Hota Hai.

 

मोहल्ले के इश्क़ का भी बड़ा अजीब अफसाना होता है।

 दो घरों की दूरी पर बीच में सारा ज़माना होता है।

-Mohd Shoeb, Balrampur


Aankhen Niche Karke Apna Rastey Chala Karo,

Log Aankho Se Bhi Alfaz Chura Lete Hai.

 

आँखें नीची करके अपने रास्ते चला करो,

लोग आँखों से भी अलफ़ाज़ चुरा लेते हैं।

-Mohd Shoeb, Balrampur


Manjil Milegi Bhatak Kar Hi Sahi.

Gumraah To Wo Hai To Ghar Se Nikle Hi Nahi.

 

मंज़िल मिलेगी भटक कर ही सही,
गुमराह तो वो हैं जो घर से निकले ही नहीं।

-Mohd Shoeb, Balrampur


Ab Ye Na Puchna Ye Alfaz Kaha Se Lata Hu.

Kuch Churata Hu Dard Dusro Ke, Kuch Apna Dard Sonata Hu.

 

अब ये न पूछना ये अल्फ़ाज़ कहाँ से लाता हूँ,
कुछ चुराता हूँ दर्द दूसरों के, कुछ अपना दर्द सुनाता हूँ।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Ham Labo Se Kah Nap Aye Unse Haal-E-Dil Kabhi.

Aur Wo Samjhe Nahi Ye Khamoshi Kya Cheej Hai.

 

हम लबों से कह न पाए उनसे हाल-ए-दिल कभी,

और वो समझे नहीं ये “ख़ामोशी” क्या चीज़ है।

-Mohd Shoeb, Balrampur


Mere Alfaz Parda Hai Mere Jazbaaton Ka.

Mai Jaha Se Khamoosh Hu Mujhe Waha Se Suniye.

 

मेरे अल्फ़ाज़ पर्दा है मेरे जज्बातों का..

मैं जहाँ से खामोश हूँ मुझे वहाँ से सुनिए..!

– Mohammad Saddam, Mumbai


Kar Lete Hain Bardasht Har Dard Ko Hanskar.

Kyunki Yeh Baat Toh Pakki Hai Ki, Khuda Nur Bhi Barsaata Hai Azmaish Ke Baad.

 

कर लेते है बर्दाश्त हर दर्द को हंसकर हम।

क्योंकि यह बात तो पक्की है कि, खुदा नूर भी बरसाता है आजमाइश के बाद।

– Nouman Faridi, Agra


Taras Aata Hai Mujhe Apni Masoom Si Palko Par,

Jab Bheeg Kar Kahti Hai Ki Ab Roya Nahi Jata.

 

तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर,

जब भीग कर कहती है कि अब रोया नहीं जाता।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Ilaj-E-Dard-E-Dil Tumse, Masiha Ho Nahi Sakta,

Tum Achha Kar Nahi Sakte, Mai Achha Ho Nahi Sakta.

 

इलाज-ए-दर्द-ए-दिल तुमसे, मसीहा हो नहीं सकता,

तुम अच्छा कर नहीं सकते, मैं अच्छा हो नहीं सकता।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Tajurbe Ne Hame Ek Baat Sekhai Hai.

Ek Naya Dard Hi Purane Dard Ki Dawai Hai.

 

तजुर्बे ने हमें एक बात तो सिखाई है,

एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवाई है।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Log Jalte Rahe Meri Muskaan Par,

Maine Dard Ki Apne Numaish Na Ki.

Jab Jaha Jo Mila Apna Liya,

Jo Na Mila Uski Khwahish Na Ki.

 

लोग जलते रहे मेरी मुस्कान पर,

मैंने दर्द की अपने नुमाईश न की

जब जहाँ जो मिला अपना लिया,

जो न मिला उसकी ख्वाहिश न की।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Na Jane Us Par Itna Yakeen Kyu Hai.

Uska Khayal Itna Haseen Kyu Hai.

Suna Hai Payar Ka Dard Meetha Hota Hai

To Aankh Se Nikla Aansu Namkeen Kyu Hai.

 

न जाने उस पर इतना यकीन क्यूँ है,

उसका ख्याल इतना हसीं क्यूँ है,

सुना है प्यार का दर्द मीठा होता है,

तो आँख से निकला आंसू नमकीन क्यूँ है।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Haste Hue Zakhamo Ko Bhulaen Lage Hai Ham,

Har Dard Ke Nishan Ko Mitane Lage Hai Ham

Ab Aur Koi Julm Satayega Kya Bhala,

Julm-O-Sitam Ko Ab To Satane Lage Hai Ham.

 

हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम,

हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम,

अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला,

जुल्म-ओ-सितम को अब तो सताने लगे हैं हम।

– Mohd Shoeb, Balrampur


Bichad Kar Tum Se Jindagi Saza Lagti Hai.

Yah Sans Bhi Jaise Mujhse Khafa Lagti Hai.

Agar Ummed-E-Wafa Karu To Kis Se Karu,

Mujhko To Meri Jindagi Bhi Bewafa  Lagti Hai.

 

बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है,

यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है,

अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,

मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।

– Mohd Shoeb, Balrampur


All Shayaries We Received From Our Users In A Week Are Posted Here With Their Names [Featured Shayari Page]. Thank You For Sending Us Your Shayaries. Keep Writing, Keep Sending. If You Wanna Featured Your Shayari Use This Form.


Shayari is the way to express your feeling in words. Here we are providing you the Best Hindi Shayari, Urdu Shayari, Sad Shayari, Love Shayari, Romantic Shayari, Heart Touching Shayari, Funny Shayari, Heart Touching Poetry, Two Line Shayari, Mirza Galib, Urdu Shayari in Hindi, Hindi Poetry, Urdu Poetry, Hindi Sad Shayari, Urdu Shayari Image, Featured Shayaries UrduHindiShayari Hindi Shayari Image for WhatsApp Status Image.
You can visit UrduHindiShayari for Ghazals, and Image Shayari, Heart Touching Shayari, Featured Shayaries Two line Shayari UrduHindiShayari, Shayari for Status, Dard Image Shayari Love Shayari and don’t forget to share and subscribe for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *